होम पेज » विज्ञान और विकास

विज्ञान और विकास


दवाइयाँ तो हैं मगर हैज़ा है बेक़ाबू

cholera_water

हैज़ा को होने से पहले ही रोकने के लिए अब बहुत सी दवाएँ मौजूद हैं लेकिन फिर भी क्यों नहीं रुक रही है ये महामारी?

सुनिए /

एचआईवी एड्स का विशालकाय दैत्य

HIV-Lancet

एच आई वी एड्स का जानलेवा भूत अपना आकार बढ़ाता जा रहा है. उसका सामना करने के लिए मज़बूती दरकार.

सुनिए /

MERS के संक्रमण से ख़तरा नहीं

fukuda

विशेषज्ञों का कहना है कि मर्स वायरस के फैलाव से चिन्ता तो है लेकिन वैश्विक स्वास्थ्य इमरजेंसी के हालात नहीं.

सुनिए /

बेरोज़गारी से पनपती है बग़ावत

Youth-Unemployment

कामकाज, रोज़गार और प्रगति के अवसर नहीं मिलने से युवाओं में ग़ुस्सा, हताशा और निराशा भरती है.

सुनिए /

उबाल पर है ज़मीन और समुद्र का पारा

Water_Hot-Weather

ज़मीन और पानी दोनों का ही पारा चढ़ता जा रहा है मगर इंसानों को कोई फ़िक्र नहीं है. भला क्यों...

सुनिए /

जानलेवा है तम्बाकू फिर भी…

smoking_tobacco

सारी दुनिया जानती है कि तम्बाकू जानलेवा है मगर फिर भी सिगरेट और तम्बाकू का इस्तेमाल नहीं छोड़ती, क्यों?

सुनिए /

ढाई अरब को पानी और सफ़ाई मयस्सर नहीं

water-sanitation

दुनिया में अब भी ढाई अरब लोग ऐसे हैं जिन्हें साफ़ पानी और शौचालय जैसे सफ़ाई के साधन उपलब्ध नहीं हैं.

सुनिए /

नेलसन मंडेला पुरस्कार के विजेता

nelson-mandela1

पहले नेलसन मंडेला पुरस्कार के दो विजेताओं के नाम घोषित हो गए हैं. विजेता नामीबिया और पुर्तगाल से हैं.

सुनिए /

महिला हिंसा को रोकने के लिए हो संधि

Rashida-manjoo2

सरकारें अक्सर लड़कियों और महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा को रोकने की कोशिशों में गम्भीर और ज़िम्मेदार नहीं होतीं.

सुनिए /