होम पेज » मानव अधिकार

मानव अधिकार


वहाँ मिलने लगा है भरपेट भोजन

hunger-eating

दुनिया के लिए कितनी शर्म की बात है कि अब भी एक बड़ी आबादी को पौष्टिक और भरपेट भोजन नहीं मिल पाता है.

सुनिए /

भोपाल में घुल चुका है गैस का ज़हर

Baskut-Tuncak

तीस साल पहले हुए भोपाल गैस त्रासदी ने दुनिया को हिला दिया था लेकिन क्या भारत सरकार पूरी तरह चेत पाई है.

सुनिए /

सेरेब्रेनीत्सा नरसंहार के मुल्ज़िम पर सवाल और चिन्ताएँ

humanrightscouncil

1995 में सेरेब्रेनीत्सा में आठ हज़ार निहत्थे मुसलमानों के क़त्ले के मुल्ज़िम की सज़ा पर उठे सवाल और चिन्ताएँ.

सुनिए /

बन्धनों से छुड़ाना होगा उन्हें

Peacekeeping - UNMIS

औरतें तरह-तरह के बन्धनों में जकड़ी हुई हैं. कहीं उनका ख़तना होता है तो कहीं कौमार्य टेस्ट. कैसे टूटेंगे ये बन्धन.

सुनिए /

मानवाधिकार 365, ज़ुल्म मिटाना है

UNHR-declaration

मानवाधिकार ऐसे बुनियादी अधिकार हैं जिन्हें कभी भी और कहीं भी छीना नहीं जा सकता, ना ही कोई भेदभाव हो सकता.

सुनिए /

विकलांगों को भी मिले टैक्नोलॉजी

disabilities

उनकी दुनिया अधूरी है लेकिन अगर टैक्नोलॉजी का कुछ सहारा मिल जाए तो ख़ालीपन कुछ भर सकता है. बशर्ते कि...

सुनिए /

सीआईए अब क्या छुपा रही है

humanrightscouncil-3

क्या सीआईए पर उस रिपोर्ट को ख़ुफ़िया रखने की कोशिश की जा रही है जिसमें बन्दियों को प्रताड़ित करने के सबूत पाए गए हैं.

सुनिए /

उन पर ज़ुल्म से बिखरता है जहाँ

Women-Orang

हर तीन में से एक महिला जीवन में कभी ना कभी प्रताड़ना और हिंसा का शिकार होती है. कैसे मिटेगी ये बुराई.

सुनिए /

कैसे बसेंगे उनके उजड़े हुए घर

conflict-displaced-woman

दुनिया भर में भीषण लड़ाई और हिंसा की वजह से पाँच करोड़ लोग बेघर हुए हैं. कैसे और कब रुकेगा ये अत्याचार.

सुनिए /