21/03/2014

ख़ुशिया फैलाने का दिन

सुनिए /

प्रसन्नता, ख़ुशी या हैप्पीनेस क़ुदरत का एक ऐसा नायाब तोहफ़ा है कि जो तमाम इंसानों को अच्छा लगता है इसीलिए ये तोहफ़ा सभी को बिना किसी बाधा या रुकावट के मिलना भी चाहिए.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने 20 मार्च को हर वर्ष मनाए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय प्रसन्नता दिवस के अवसर पर अपने सन्देश में ये बात कही है.

महासचिव ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के चार्टर में शान्ति, इंसाफ़, मानवाधिकार, सामाजिक प्रगति और जीवन का स्तर सुधारने की बात कही गई है और इन लक्ष्यों को हासिल करने में ही ख़ुशी यानी प्रसन्नता का मूल मंत्र छुपा हुआ है.

विश्व प्रसन्नता दिवस मनाने के लिए गायक फ़ैरेल विलियम्स ने संयुक्त राष्ट्र संस्थान के साथ हाथ मिलाया है.

फ़ैरेल विलियम्स का अंग्रेज़ी गाना हैप्पी बहुत मशहूर हुआ है.

इस गाने में अलग-अलग उम्र, रंग और क़द-काठी के लोगों को भिन्न-भिन्न तरीक़े से अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए दुखाया गया है.

लोगों से आग्रह किया गया है कि वो भी अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करने वाली वीडियो और तस्वीरें यू ट्यूब और गायक फ़ैरेल विलियम्स की वेबसाइट 24 Hours of Happiness पर लगाएँ.

ग़ैर सरकारी संगठनों से भी 20 मार्च को दोपहर 12:57 बजे शान्ति का घंटा बजाने को कहा गया था.

इस समय के साथ ही उत्तरी गोलार्द्ध में बसन्त मौसम शुरू हो जाता है.

रिपोर्ट प्रस्तुति – महबूब ख़ान