7/03/2014

सीरिया के एक तिहाई हथियार नष्ट

सुनिए /

सीरिया ने अपने रसायनिक हथियारों को हटाने या नष्ट करने के लिए पिछले कुछ दिनों के दौरान अपने प्रयास ख़ासे तेज़ किए हैं.

ये कहना है सिगरिड काग का जो संयुक्त राष्ट्र और रासायनिक हथियार निषेध संगठन (OPCW) के संयुक्त मिशन की विशेष संयोजक हैं.

सिगरिड काग ने इस मुद्दे पर बुधवार को सुरक्षा परिषद के सामने ताज़ा स्थिति पेश की.

सिगरिड काग ने कहा कि सीरिया के रासायनिक हथियारों को नष्ट करने या उन्हें वहाँ से हटाने के लिए 30 जून की जो समय सीमा तय की गई है उस पर अमल करने के लिए मार्च का महीना बहुत अहम साबित होगा कि इस दिशा में कितनी प्रगति की जाती है.

सिगरिड काग का कहना था कि सीरियाई अधिकारियों ने रासायनिक हथियारों को नष्ट करने या वहाँ से हटाकर कहीं और पहुँचाने के लिए एक नया कार्यक्रम पेश किया है जिसमें अप्रैल के आख़िर तक लक्ष्य हासिल करने की बात कही गई है.

30 जून की समय सीमा पूरी करने के लिए ज़रूरी है कि सारी प्रक्रिया बिना किसी बाधा के पूरी हो.

उन्होंने बताया कि सीरिया से रासायनिक हथियारों के लेकर अनेक जहाज़ पहले ही बाहर जा चुके हैं और आगे भी जाते रहेंगे.

लेकिन अगर रासायनिक हथियारों को बाहर ले जाने और कुछ को सीरिया में ही नष्ट करने की सम्पूर्ण प्रक्रिया पर ग़ौर किया जाए तो मिशन का कहना है कि सीरिया के लगभग एक तिहाई रासायनिक हथियार या तो नष्ट किए जा चुके हैं या बाहर ले जाए जा चुके हैं.

सीरिया रासायनिक हथियारों के लिए संयुक्त मिशन की विशेष दूत सिगरिड काग का ये भी कहना था कि सीरिया के कुल रासायनिक हथियारों का क़रीब 40 प्रतिशत हिस्सा अगले कुछ ही दिनों में या नष्ट कर दिया जाएगा या बाहर भेज दिया जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र ने सितम्बर 2013 में सर्वसहमति से एक प्रस्ताव पारित किया था जिसके तहत सीरिया के रासायनिक हथियारों को या तो वहीँ नष्ट किया जाना था या वहाँ से बाहर किसी अन्य देश में ले जाकर उन्हें नष्ट करना है.

उसी प्रस्ताव के अमल के रूप में सीरिया के रासायनिक हथियारों को नष्ट किया जा रहा है.