3/01/2014

इराक़ में 2013 में हुई आठ हज़ार लोगों की मौत

सुनिए /

इराक़ में वर्ष 2013 में लगभग आठ हज़ार आम लोगों की मौत हुई जोकि वर्ष 2008 के बाद से किसी एक वर्ष में सबसे ज़्यादा संख्या रही.

इराक़ में संयुक्त राष्ट्र के मिशन ने ये आँकड़े जारी किए हैं.

मिशन का कहना है कि वर्ष 2013 में इराक़ में सात हज़ार 818 आम लोगों की मौत हुई जिनमें कुछ पुलिसकर्मी भी हैं.

इनके अलावा क़रीब 18 हज़ार अन्य लोग घायल भी हुए.

इराक़ में संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधि निकोलेय म्लादेनोफ़ ने स्थिति के बारे में और ज़्यादा जानकारी देते हुए बताया कि ये एक बहुत ही दुखदायी रिकॉर्ड है जिससे ये बात एक बार फिर पुख़्ता हो जाती है कि इराक़ में स्थिति को बेहतर बनाने के लिए बड़े पैमाने पर ठोस उपाय करने की सख़्त ज़रूरत है.

उन्होंने कहा कि ख़ासतौर पर इराक़ी अधिकारियों को देश में हिंसा के कारणों पर ज़्यादा ध्यान देना होगा.

बुधवार को जारी इन आँकड़ों से पता चलता है कि वर्ष 2013 का मई महीना सबसे हिंसक रहा जिसमें 963 लोगों की मौत हुई और क़रीब 2200 लोग घायल हुए.

मई महीने में राजधानी बग़दाद हिंसा से सबसे ज़्यादा प्रभावित क्षेत्र रहा.

Loading the player ...

कनेक्ट