8/11/2013

सीरिया संकट का हल जल्दी निकालना बहुत ज़रूरी

सुनिए /

सीरिया संकट का कोई ठोस हल निकालने के लिए दूसरे सम्मेलन की तैयारी करने के वास्ते संयुक्त राष्ट्र, अमरीका और रूसी महासंघ ने मंगलवार को जिनेवा में एक बैठक की है.

लेकिन सीरिया के लिए संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग के विशेष दूत लख़दर ब्राहमी ने कहा है कि अभी सीरिया पर दूसरे सम्मेलन के लिए कोई ठोस सहमति नहीं बन पाई है.

लख़दर ब्राहमी ने कहा, "हम उम्मीद कर रहे थे कि संयुक्त राष्ट्र, रूसी महासंघ और अमरीका के बीच हुई इस बैठक के बाद किसी तारीख़ की घोषणा कर दी जाएगी. लेकिन बदक़िस्मती से ऐसा नहीं हो सका है. लेकिन हम अब भी आस लगाए हुए हैं कि सीरिया पर दूसरा सम्मेलन ये वर्ष समाप्त होने से पहले हो जाए."

"जहाँ तक संयुक्त राष्ट्र का सवाल है तो ये संस्था हमेशा तैयार है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून सीरिया हल के लिए दूसरे सम्मेलन के आयोजन के लिए बहुत बेताब हैं क्योंकि सीरिया में हालात बहुत ही ख़राब हैं."

लख़दर ब्राहमी ने बताया कि तीनों पक्ष फिर से 25 नवंबर को मुलाक़ात करेंगे, तब तक सीरियाई विपक्ष भी कई बैठकें कर लेगा जो 9, 22 और 23 नवंबर को प्रस्तावित हैं.

उन्होंने भरोसा जताया कि सीरियाई विपक्ष भी सीरिया पर होने वाले सम्मेलन के लिए सार्थक इरादे के साथ तैयारी करेगा.

लख़दर ब्राहमी ने बताया कि सीरिया मुद्दे पर सुरक्षा परिषद के अन्य स्थाई सदस्यों – ब्रिटेन, चीन, फ्रांस के साथ भी बातचीत हुई है.

इनके अलावा जिन देशों की सीमाएँ सीरिया के साथ मिलती हैं, उनके साथ भी बातचीत चल रही है. ये देश हैं – तुर्की, इराक़, जॉर्डन और लेबनान.

अन्तरराष्ट्रीय रेडक्रॉस समिति और संयुक्त राष्ट्र की मानवीय सहायता एजेंसियाँ भी बातचीत में शामिल हैं.

Loading the player ...

कनेक्ट