29/08/2013

सीएआर में हिंसा से लोगों का पलायन

सुनिए /

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी यानी यूएनएचसीआर ने कहा है कि Central African Republic (CAR) यानी मध्य अफ्रीकी गणराज्य की राजधानी बान्गुई में ताज़ा हिंसा से घबराकर लगभग छह हज़ार लोगों को हवाई अड्डे में पनाह लेनी पड़ी है.

एजेंसी का कहना है कि अनेक इलाक़ों में हथियारबन्द गुटों ने आम लोगों पर हमले तेज़ किए हैं.

एजेंसी ने सरकार से अपील की है कि आम लोगों की हिफ़ाज़त के लिए तुरन्त और व्यापक क़दम उठाए. साथ ही आम लोगों की घर वापसी सुनिश्चित करने के लिए समुचित क़दम भी उठाए जाएँ.

यूएनएचसीआर ने कहा है कि जिन लोगों को हिंसा और लड़ाई से जान बचाने के लिए भागना पड़ा है, उनमें से ज़्यादातर ने बांगुई अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे में पनाह ली हुई है जिससे हवाई पट्टी भी बाधित हो रही है.

क़रीब 500 लोगों ने एक स्थानीय अस्पताल में शरण ली है जिससे वहाँ स्वास्थ्य सेवाओं का संकट पैदा हो गया है.

जिनेवा में यूएनएचसीआर प्रवक्ता बाबर बलोच का कहना था, “पिछले दस दिनों के दौरान मनमाने तौर पर लोगों की गिरफ्तारियाँ, बन्दीकरण, प्रताड़ना, जबरन वसूली, हथियारबन्द लोगों द्वारा डकैतियाँ और शारीरिक हिंसा ने लोगों को अपने घर छोड़ने को मजबूर कर दिया है.”

“हालात बेहद ख़राब और असुरक्षित हैं और आम लोगों के लिए तो हालात हर दिन बद से बदतर होते जा रहे हैं. पिछले महीनों के दौरान हमने हर तरफ़ अफ़रा-तफ़री देखी है जिसमें खुलेआम क़ानून की धज्जियाँ उड़ाई गई हैं.”

उन्होंने कहा, “लोगों को अपने इलाक़ों में सुरक्षा क़ायम करने में बहुत मशक्कत करनी पड़ी है और उनकी ख़ुद की जान भी अक्सर ख़तरे में पड़ी है. इस हाल के घटनाक्रम से लोगों में और डर बैठ गया है इसीलिए लोग अपने घर छोड़कर सुरक्षित इलाक़ों की तरफ़ भाग रहे हैं.”

मध्य अफ्रीकी गणराज्य में इस वर्ष मार्च में विद्रोही ताक़तों ने सरकार को हटा दिया था जिसके बाद वहाँ हालात सामान्य नहीं हो सके हैं.

इस राजनीतिक अस्थिरता की वजह से वहाँ दो लाख से ज़्यादा लोगों को विस्थापित होना पड़ा है.

Loading the player ...

कनेक्ट