23/08/2013

इसराइली-फ़लस्तीनी वार्ता पर संतोष

सुनिए /

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मध्य पूर्व की ताज़ा स्थिति पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा गया है कि इसराइल और फ़लस्तीनी पक्षों के बीच शान्ति प्रक्रिया आगे बढ़ती हुई देखना सचमुच उम्मीद जगाता है.

सुरक्षा परिषद में पेश की गई ताज़ा रिपोर्ट में कहा गया है कि हालाँकि मध्य पूर्व के क्षेत्रीय हालात बहुत चुनौतीपूर्ण बने हुए हैं लेकिन दोनों पक्षों के बीच बहुप्रतीक्षित सीधी बातचीत शान्ति प्रक्रिया में प्रगति को दिखाती है.

राजनीतिक मामलों के लिए सहायक महासचिव ऑस्कर फर्नान्डेज़ ट्रैन्को ने उम्मीद जताई कि हाल के वर्षों के दौरान जो राजनीतिक गतिरोध पैदा हो गया था, उसे दूर करने के लिए सीधी बातचीत शुरू करने से तमाम पक्षों की निराशा और हताशा दूर होने की उम्मीद जागी है.

ऑस्कर फर्नान्डेज़ का कहना था, "इसराइल-फ़लस्तीनी मुद्दे पर एक सार्थक राजनीतिक पहल देखी गई जिससे उम्मीद का रास्ता खुला है. हम सभी एक निर्णायक मोड़ पहुँच गए हैं. दोनों पक्षों के कन्धों पर अब ये ज़िम्मेदारी आन पड़ी है कि वो शान्ति हासिल करने के लिए कोई भी रास्ता और दूरी तय करेंगे और अपने लोगों को निराश नहीं करेंगे."

उन्होंने कहा कि "ये एक ऐसा मौक़ा भी है जब हम सभी को एकजुट प्रयास करने चाहिए ताकि मौक़े की नज़ाकत को समझते हुए ठोस परिणाम हासिल किए जा सकें. दोनों पक्षों के नेताओं को ये समझना होगा कि ये एक ऐसा अवसर उनके हाथ लगा है जिसे किसी भी क़ीमत पर गँवाया नहीं जा सकता.”

सहायक महासचिव फ़र्नान्डेज़ ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के हमेशा यही भरोसा रहा है कि इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच अगर अच्छे सम्बन्ध बनते हैं तो पूरे मध्य पूर्व क्षेत्र में स्थिरता पर सकारात्मक असर छोड़ सकते हैं.

ख़ासतौर से मध्य पूर्व में हाल के सप्ताहों में कुछ परेशान करने वाले घटनाक्रम को देखते हुए इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच कोई ठोस प्रगति बहुत महत्वपूर्ण बन चुकी है.

Loading the player ...

कनेक्ट