8/08/2013

टिकाऊ भविष्य के लिए युवा भूमिका अहम

सुनिए /

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा है कि ये विश्व संस्था ये सुनिश्चित करने के लिए संकल्पबद्ध है कि भविष्य को कोई आकार देने के बारे में होने वाले विचार विमर्श में युवाओं की आवाज़ को भी भरपूर जगह मिले.

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने मंगलवार को वैश्विक संवाद का आयोजन किया जिसमें सैकड़ों युवाओं ने हिस्सा लिया.

महासचिव बान की मून ने इस सम्मेलन में एक ऐसे वैश्विक सर्वे का हवाला दिया जिसमें युवाओं की चिन्ताओं को उजागर किया गया है.

इन चिन्ताओं में बेहतर कामकाज के अवसरों की तलाश, अच्छी शिक्षा और जलवायु परिवर्तन की चुनौती का सामना करने के लिए प्रयास बढ़ाना शामिल है.

महासचिव बान की मून ने कहा, "मैं युवाओं के साथ काम करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध और समर्पित हूँ. मैं ये पता लगाने के लिए भी गम्भीरता से इच्छुक हूँ कि युवा एक टिकाऊ और बराबरी वाला भविष्य बनाने और सभी के लिए सम्मानजनक अवसर मुहैया कराने में और ज़्यादा भूमिका किस तरह निभा सकते हैं."

"संयुक्त राष्ट्र ये सुनिश्चित करने के लिए भी प्रतिबद्ध है कि युवाओं की आवाज़ सुनी जाए. बल्कि मैं तो ये कहूँगा कि युवाओं की आवाज़ ना सिर्फ़ सुनी जाए बल्कि सभी के लिए एक बेहतर भविष्य बनाने के प्रयासों में युवाओं की आवाज़ को प्रमुखता से जगह भी मिले."

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने ये भी कहा कि दुनिया की लगभग आधी आबादी 25 वर्ष से कम उम्र की है.

इतिहास में ये पहला मौक़ा है जब युवा आबादी सबसे ज़्यादा है.